प्रसिद्ध लेखिका और सामाजिक कार्यकर्ता महाश्वेता देवी का निधन



प्रसिद्ध लेखिका और सामाजिक कार्यकर्ता महाश्वेता देवी का आज निधन हो गया. वह 90 वर्ष की थीं.  उन्हें लंबे समय से गुर्दे की और रक्त संक्रमण की समस्या थी.  कोलकाता के एक निजी अस्पताल में पिछले काफी समय से उनका इलाज चल रहा था.

महाश्वेता देवी ज्ञानपीठ, पद्मश्री और मैगसेसे पुरस्कार से सम्मानित थीं. वह तीन दशक से ज्यादा समय तक आदिवासियों के बीच काम करती रहीं. उनके साहित्य का बड़ा हिस्सा आदिवासियों के जीवन पर आधारित है. महाश्वेता देवी बांग्ला में उपन्यास लिखा करती थीं लेकिन अंग्रेज़ी, हिंदी और अलग अलग भाषाओं में अनुवाद के माध्यम से उनका साहित्य पूरी दुनिया में पढ़ा जाता है. उनके लिखे उपन्यासों पर कई फिल्में बनी हैं. ‘हज़ार चौरासी की मां’,'रुदाली’, ‘संघर्ष’ और ‘माटी माय’ ऐसा सिनेमा है जो महाश्वेता के उपन्यासों पर आधारित है.

 

 

#महाश्वेता देवी, #निधन, #लेखिका, #समाजिक कार्यकर्ता, #ज्ञानपीठ,#पद्मश्री,#मैगसेसे पुरस्कार,#हज़ार चौरासी की मां, #रुदाली, #माटी माय, #उपन्यास

Leave A Comment

  • Linked In
  • FaceBook
  • RSS

Enter your email address:

ये भी पढ़ें

फोटो गैलरी

Photo Gallery