ऐसे कैसे पढेंगी, कैसे बढ़ेंगी बेटियां?



बीकानेर के नोखा गांव में मंगलवार को संदिग्ध परिस्थिति में हुई छात्रा की मौत से ग्रामीणों और परिजनों में खासा आक्रोश है. मृतक छात्रा डेल्टा मेघवाल के परिजनों ने उसके कॉलेज के संचालक, पीटीआई और हॉस्टल की वार्डन के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई है. परिजनों ने एफआईआर में बलात्कार और हत्या का आरोप लगाया.

मीडिया ख़बरों के अनुसार नाबालिग छात्रा डेल्टा नोखा के श्री जैन आदर्श बीएड कॉलेज में बीएसटीसी द्वितीय वर्ष में अध्ययनरत थी.

आरोप है कि बाडमेर जिले की छात्रा डेल्टा जब होली के बाद गांव से लौटी तो हॉस्टल में सिर्फ चार लड़कियां मौजूद थीं.हॉस्टल वॉर्डन ने छात्रा की पीटीआई के कमरे में सफाई के लिए भेज दिया, जहां पर पीटीआई ने उसके साथ रेप किया. जब इस घटना की शिकायत डेल्टा ने अपने पिता से फोन पर की और क़ॉलेज संचालक, पीटीआई सहित हॉस्टर वार्डन से अपनी जान के खतरे का अंदेशा जताया.

आरोप है कि मामले का राज खुलने से इस छात्रा की हत्या कर दी गई. दूसरे दिन छात्रा की लाश कॉलेज परिसर में मौजूद पानी की टंकी में मिली.

प्राप्त जानकारी के अनुसार छात्रा डेल्टा बचपन से होनहार और रचानात्मक थी. जब वह सात साल की थी, तब उसकी पेंटिग को राजस्थान सचिवाल की मैग्जीन में स्थान दिया था. वह राजस्थान में हुई आर्ट कंप्टीशन में पहले नंबर पर थी. राजस्थान की मुख्यमंत्री ने डेल्टा की पेंटिंग की सराहना की थी.

#डेल्टा_मेघवाल

Leave A Comment

  • Linked In
  • FaceBook
  • RSS

Enter your email address:

ये भी पढ़ें

फोटो गैलरी

Photo Gallery